इक पन्ना है बरसों से खाली

मैं तुम्हारे किताब का वो पन्ना हूँ
जो इस वजह से जुड़ गयी
क्योंकि हर किताबं में कुछ पन्ने
यूहीं शामिल कर दिये जातें हैं।

कुछ लोग ऐसे पन्नों में
अपने नाम लिख छोड़ देते हैं
तो कुछ लोग इन्हें
खाली ही रहने देते हैं।

मैं तुम्हारे वक़्त का वो छन हूँ
जिनके होने न होने से
ज़िन्दगी की रफ़्तार में
कोई खास फरक नहीं पठति
कुछ पल ऐसी भी होते हैं
जिनमे ज़िन्दगी कभी जीई नहीं जाती
आप ही गुज़र जाती है।

में तुम्हारे दिल का
वोह खली कमरा हूँ
जो केवल छट दीवाली होली में
खोल साफ कर दी जाती।

सितमगर मेरी, मेरी जुस्तजू
गर वक़्त मिले तो इन खली पन्नों पर
इक कलम चला देना
बस एक करम करना
with love के बाद
अपना ही नाम लिख देना।

गर साथ हो, तो साथ चलो

ये कैसा सन्नाटा है ज़िंदगी
जो इस कदर बेबस करती है
कि शाम ठले
तो तुम्हारी यादें शोर-ग़ुल
चैन तबाह कर देती है 

इससे अच्छा तो यह होता
कि कुछ दूर और हम साथ साथ चलते
और यूँही किसी मोड़ पर पलक झपकते
तुम कुछ ऐसा केह देती
और मे कुछ वैसा सुन जाता
कि राह चलते जो इक मोड़ अति
तुम इक राह पकड़ती
और दुसरे से हम निकल जाते।

Aawargi

Photo Courstey

जिन नज़रों से मै तुम्हें देखता हूँ,
उन नज़रों कि कसम

वो दुआएं जिनमे 
तुम हर पल बस्ती हो
उन सभी दुआओं की कसम

जिन रातों की चांदनी
तुमसे वाबस्ता है
ऐसे हर रातों कि कसम

जिस सुबह को तुम्हारी गुज़ारिश है
उन सभी सुबहों कि कसम

जिन घटाओं में शामिल तुम
बे वक़्त बरसा करती हो
उन सभी घटाओं कि कसम

जिन खूबसूरत वादियों में
हम तुम शाम ठले मिलते थे
उन सभी हसीन वादियों की कसम

जिन साँसों में तुम
धड़कन बन कर बजती हो
उन सभी साँसों कि कसम

याद करना तो आया न मुझे
पर अब जब भुलाना चाहुँ
तो भूल भि न पाऊं

रोना तो सीख लिया मैंने ज़िन्दगी 
भुलाना तो तुमने
सिखाया न मुझे.
 You can listen to this poem HERE

My Story

I see those questions in your eyes
And I see that my silences
And where they come from
Surprises you.

I can feel you peeking hard
Into closed alleyways and corridors
Of my silent gentle life
And I see you.

It's my story
And I hold it dear.
It is full of longing
Full of silent tears.

It's not a story that I wish to share
For it's my life,
And as it unfolds
One chapter at a time
You will know of it
If you are in there.

Amen

In that moment
Between looking up
And looking down
Smiling
And holding back that smile
Touching
And not letting the touch linger on
Waiting
And not making it look like waiting

Is a story well begun.

The Dream Within A Dream

I had this dream. I had this dream that I was floating on a cloud and you were with me. From the mist of wayward dreams, I could feel your fragrance engulfing me. Each time I was confused and frightened and lonely and sad, I could see you pouting at me. The sun was but a glimmer and the birds were catching wind. The dew drops seem to have turned into a translucent liquid, and they were staring at me.

And when I opened my eyes. I could feel the softness of your lashes, as they lovingly brushed against mine.